September 25, 2021

Mookhiya

Just another WordPress site

New Mookhiya election date announced.( Click Here )

फर्जी डॉक्टर बनकर, नौकरी दिलवाने का झांसा देकर लोगों से ठगे करोड़ों रुपए

PMCH के डॉक्टर बनकर पति और पत्नी ने लोगों से करोड़ों रुपए ऐंठे और फरार हो गए। इस मामले में अंजनीश कुमार ने नौबतपुर थाने में डॉक्टर और उनकी पत्नी के खिलाफ ठगी का मामला दर्ज कराया है। मामला दर्ज होते ही आरोपित डॉक्टर एवं उनकी पत्नी घर छोड़कर फरार हो गए।

नौबतपुर थाना के पिपलाना गांव के निवासी अंजनीश कुमार ने बताया- ‘नौबतपुर में दवा की दुकान है और वह एक दवाई कंपनी के लिए काम भी करते हैं। इस बीच मोहनी पोखर के निवासी डॉक्टर आरके झा नाम का व्यक्ति एक दिन दुकान पर आकर मिला और खुद को PMCH का चिकित्सा पदाधिकारी बताता। मोहनी पोखर में इन्होंने करोड़ों रुपए लागत से एक आलीशान मकान बना रखा है।’

अंजनीश ने बताया- ‘PMCH में डॉक्टर के नाम पर इन्होंने अपने मकान पर नेम प्लेट भी चिपका रखा है। इसके अलावा अपनी गाड़ी पर भी चिकित्सक का स्टीकर चिपका रखा है। इसको देखकर कई लोग इनके झांसे में आ गए। दवा खरीदारी के नाम पर इन्होंने अंजनीश से भी 28 लाख 69 हजार के दवाई खरीदी और बदले में अलग-अलग बैंक के चेक भी दिया। जब अंजनी ने उन चेक को बैंक में डाला तो उनका चेक बाउंस कर गया। डॉ राम कुमार झा अपनी पत्नी बबीता देवी के साथ मिलकर नौबतपुर सहित आसपास के इलाकों के लोगों से नौकरी दिलाने, PMCH में टेंडर दिलाने सहित कई प्रलोभन देकर लोगों से करोड़ों रुपए भाग कर यहां से फरार हो गए हैं।’

डॉक्टर से काफी प्रयास के बाद भी इनका संपर्क नहीं हो सका। इस बीच डॉक्टर मौके का फायदा उठाकर अपना घर बंद करके फरार हो गए। अंजनीश ने डॉक्टर के खिलाफ न्यायालय से लीगल नोटिस भी भेजा। इसके बाद भी कोई असर नहीं होता देख नौबतपुर थाने में उन्होंने डॉक्टर राम कुमार झा एवं उनकी पत्नी बबीता देवी के खिलाफ फर्जी तरीके से पैसे ऐंठने का मामला दर्ज कराया है।

मामले की खोजबीन में पता चला कि आशापुर विक्रम निवासी मनीष कुमार को भी डॉ राम कुमार झा ने हाईकोर्ट में नौकरी दिलाने के नाम पर 14 लाख रुपए ऐठ लिए। चेक दिया तो बाउंस कर गया।

मनीष ने बताया कि डॉ राम कुमार झा मोहनी पोखर गांव में कई नाम से जाना जाता है। उन्होंने यह भी बताया कि आधार कार्ड पर इस व्यक्ति का नाम राम कुमार राय है और यह व्यक्ति बिहार के सहरसा का निवासी है।

इधर, आरा के निवासी पंकज कुमार ने बताया कि उनके द्वारा 4 लाख रुपए नौकरी दिलाने के नाम पर ठगी की गई। जो आज तक नहीं मिला और बदले में जो भी उन्हें चेक दिया गया। वह चेक बैंक से आज तक नहीं भंज सका।

इस मामले में थाना प्रभारी सम्राट दीपक ने कहा कि नौबतपुर थाना में मामला दर्ज किया गया है और पुलिस मामले की छानबीन में जुटी है ।