October 14, 2021

Mookhiya

Just another WordPress site

New Mookhiya election date announced.( Click Here )

स्कूली छात्रा की एक्सीडेंट में हुई मौत, लोगो ने किया हाइवे जाम

राजधानी पटना के गौरीचक थाना क्षेत्र के सैदनपुर गांव के पास SH-78 पर तेज रफ्तार हाईवा की चपेट मे आने से एक स्कूली छात्रा की घटनास्थल पर ही मौत हो गई. जबकि एक दूसरी छात्रा गंभीर रूप से घायल हो गई। घायल छात्रा को इलाज के लिए पास के ही निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया है, जहां उसकी स्थिति गंभीर बताई जाती है।

घटना से गुस्साए मृतका के परिजन और ग्रामीणों ने स्टेट हाईवे को घटना के बाद से खबर प्रेषण तक जाम कर रखा है। इस दौरान आक्रोशितो ने स्टेट हाइवे से गुजरने वाले कई वाहनों में तोड़फोड़ और कई ड्राइवरों की पिटाई की और साथ ही कवरेज करने गए मीडिया कर्मी के साथ भी दुर्व्यवहार किया। दैनिक भास्कर डिजिटल के रिपोर्टर को भी कुछ देर के लिए बंधक बना लिया।

हंगामा करने वाले चार-पांच दर्जन मवाली युवकों के समूह ने सिक्स लेन बनाने वाली कंपनी के बेस कैंप पहुंचकर भी जमकर उत्पात मचाया। कैंप में खड़ी आधा दर्जन लग्जरी वाहनों के शीशे तोड़ डालें और ऑफिस के खिड़कियों के शीशे भी तोड़े। इन युवकों ने कैंप के कांफ्रेंस हॉल में घुसकर वहां लगे कंप्यूटर को भी साथ ले गए। स्टेट हाईवे जाम की सूचना के बाद करीब एक घण्टे की देरी से पहुंची पुलिस को मौके पर हंगामा कर रहे मवाली युवकों ने पुलिस को पीटते हुए खदेड़ दिया।

मृतका की पहचान सैदनपुर गांव निवासी वीरेंद्र कुमार सिंह की 11 वर्षीया पुत्री शीतल कुमारी के रूप में हुई है। बताया जाता है कि शीतल कुमारी गांव की ही झुंनी कुमारी के साथ मसाढ़ी स्थित स्कूल से वापस अपने घर लौट रही थी। इसी दौरान स्टेट हाईवे पर बेलगाम हाईवा ने दोनों को टक्कर मार दी, जिसमें शीतल की घटनास्थल पर ही मौत हो गई, जबकि हादसे में झुंनी कुमारी गंभीर रूप से घायल हो गई। शीतल सातवीं कक्षा की छात्रा थी जबकि झुन्नी 9वी क्लास की।

घटना शाम 4:20 की है जबकि रात के 10:00 बजे तक पुलिस स्टेट हाईवे पर लगी जाम को हटाने में असफल रही है। ग्रामीण आपदा राहत कोष के तहत दिए जाने वाले ₹5 लाख की ऑन स्पॉट भुगतान किए जाने की मांग पर अड़े हैं। खबर लिखे जाने तक सर्किल इंस्पेक्टर मौके पर मौजूद थे। जबकि किसी वरीय पुलिस पदाधिकारी के पहुंचने की सूचना नहीं है।