October 14, 2021

Mookhiya

Just another WordPress site

New Mookhiya election date announced.( Click Here )

बिहार में तीसरे चरण का चुनाव संपन्न

बिहार पंचायत चुनाव के तीसरे चरण की वोटिंग शुक्रवार को खत्म हो गई है। 35 जिलों के 50 प्रखंडों में 58.16% वोटिंग हुई है। सबसे अधिक मतदान गया में 65.42% रहा है। वहीं, दूसरे नंबर पर 62% के साथ नवादा जिला है। दो सीटों पर रिपोल कराए जाने का फैसला लिया गया है। समस्तीपुर के उजियारपुर में पंचायत समिति की एक सीट पर रिपोल होगा। इसके अलावा मुजफ्फरपुर में वार्ड 4 पर लोग फिर से मतदान करेंगे। रोहतास- 60, पटना – 61.93, सिवान – 61.50, बक्सर – 49, भोजपुर -55.30, कैमूर – 61, नालंदा -57.83, गया -65.42, नवादा -62, औरंगाबाद -61.02, जहानाबाद – 59.77, अरवल – 62, सारण-50.26, गोपालगंज -55.06, पूर्वी चंपारण – 59.20, मधुबनी-55.73, समस्तीपुर -56.55, मधेपुरा -50.54, पूर्णिया -61.50, कटिहार -58.70, अररिया -52.85, बेगूसराय-61.58, खगड़िया -60.63, मुंगेर -61.53, भागलपुर -61.04, वैशाली -56, सीतामढ़ी- 58.85, सहरसा- 59.13

वहीं, तीसरे चरण की वोटिंग के दौरान कई जिलों में हल्की झड़प भी हुई। भोजपुर के जंगल महाल पंचायत के बूथ नंबर 112 पर दो प्रत्याशियों के समर्थकों के बीच झड़प हो गई। विवाद के बाद हुई मारपीट में 2 लोगों का सिर फट गया। इसके बाद बड़ी संख्या में सुरक्षाकर्मियों को तैनात कर दिया गया था। वहीं, नालंदा के नगरनौसा प्रखंड के खजुरा पंचायत के बूथ नंबर 19 पर थानाध्यक्ष नारद मुनी की गाड़ी पर ही लोगों ने पथराव कर दिया। इस मामले में पुलिस ने 4 लोगों को गिरफ्तार किया।

दरभंगा में SSP के काफिले पर हमला

दरभंगा में भी चुनाव के दौरान गश्ती पर निकले SSP बाबूराम के काफिले पर पथराव हो गया। एक गाड़ी का शीशा फूट गया। मतदान केंद्र पर से भीड़ हटाए जाने के बाद ग्रामीण आक्रोशित हो गए थे। इधर, गोपालगंज के भोरे इलाके की हुस्सेपुर पंचायत में मतदान के दौरान बवाल हो गया। यहां मतदान करने आए वोटरों ने BDO पर गाली-गलौज और धमकी देने का आरोप लगाया। इसके बाद नाराज लोगों ने बूथ से BDO को खदेड़ दिया। वहीं, बेतिया के सेमरी पंचायात के बूथ संख्या 305 पर बवाल हुआ। लोगों ने सेक्टर मजिस्ट्रेट की गाड़ी का शीशा फोड़ दिया। धीमी मतदान को लेकर बूथ पर ग्रामीण भड़क गए थे। 

नाव से पहुंचे थे मतदाता

वहीं, नवादा जिले के नक्सल प्रभावित रजौली इलाके में मतदाता नाव से मतदान केंद्र पर पहुंचे। यहां मतदान केंद्र और गांव के बीच में फुलवरिया डैम है। डैम को पार करने के लिए मतदाताओं ने नाव का सहारा लिया। उधर, नवादा के ही रजौली में सिरोडाबर पंचायत की बूथ संख्या-162 पर वोट देने के लिए शुरुआत के कई घंटों तक वोटर नहीं पहुंचे। ग्रामीणों ने बताया कि दो मुखिया प्रत्याशी के समर्थकों ने वोटिंग से पहले मारपीट की। इसके विरोध में मतदान का बहिष्कार किया गया।

35 जिलों के 50 प्रखंडों में चुनाव

सुबह साढ़े 6 बजे से ही महिला और पुरूष मतदान केंद्र पर पहुंचने लगे थे। मतदान केंद्र पर सुरक्षा के चाक-चौबंद इंतजाम किए गए थे। कैमूर के चैनपुर प्रखंड के जगरिया पंचायत में बूथ पर बायोमैट्रिक सिस्टम में गड़बड़ी आ गई थी। इस कारण मतदान काफी देर तक शुरू नहीं हो पाया था। जगदीशपुर प्रखंड में कौंरा पंचायत में बूथ संख्या 9,10 का EVM फिर से ठीक कर दिया गया था। इस चरण में 35 जिलों के 50 प्रखंडो में चुनाव होना है। सुबह 7 बजे से शुरू हुआ मतदान शाम 5 तक चलेगा।