September 25, 2021

Mookhiya

Just another WordPress site

New Mookhiya election date announced.( Click Here )

पुलिस और बैंक लुटेरों के बीच हुई मुठभेड़, मुठभेड़ में एक लुटेरा मारा गया

मुजफ्फरपुर के मोतीपुर में पचरुखी चौक स्थित बैंक ऑफ बड़ोदा को लूटने आधा दर्जन से अधिक की संख्या में बाइक और पिकअप सवार लूटेरे पहुंचे थे। हालांकि, पुलिस को पहले से इसकी सूचना थी। SSP जयंत कांत, मोतीपुर थानेदार अनिल कुमार समेत सभी पुलिसकर्मी सिविल ड्रेस में बैंक के अंदर और बाहर ग्राहक व स्थानीय के वेश में घूम रहे थे। इसी बीच आए लुटेरों में दो बाहर रुककर रेकी करने लगे और चार अंदर घुस पिस्टल लहराकर कैश काउंटर से लूटपाट का प्रयास करने लगे।

इसी दौरान पुलिस ने धावा बोल दिया। खुद को फंसता हुआ देख लुटेरों ने फायरिंग शुरू कर दिया। बैंक के भीतर दो राउंड फायरिंग करते हुए बाहर भागे। पुलिस की तरफ से भी जवाबी कार्रवाई में फायरिंग की गई।

दोनों तरफ से करीब डेढ़ दर्जन राउंड फायरिंग हुई। SSP जयंत कांत खुद टीम के साथ बाहर में लुटेरों से भिड़े हुए थे। ताबड़तोड़ फायरिंग हो रही थी। इसी दौरान एक गोली स्थानीय दुकानदार बुधन और युवक रोहित को लगी। जवाबी कार्रवाई करते हुए पुलिस ने एक लुटेरे को मार गिराया। अन्य तीन गोली लगने से घायल होकर गिर गए। वहीं दो लुटेरे मौके से फरार होने में सफल हो गए।

फिलहाल पुलिस टीम पूरे इलाके में सर्च अभियान चला रही है। घायल स्थानीय का इलाज़ बैरिया स्थित निजी अस्पताल में चल रहा है। रोहित को तीन गोली लगी है और दुकानदार को एक गोली पैर में लगी है। अपराधियों को SKMCH में लाया गया है।

SSP ने बताया कि पचरुखी चौक पर बैंक ऑफ बड़ौदा ब्रांच में लूट की योजना की सूचना पुलिस को सर्विलांस सेल के जरिए पूर्व से मिल चुकी थी। फायरिंग में कोई भी पुलिसकर्मी ज़ख़्मी नहीं हुआ है। बैंक में कैश बिल्कुल सुरक्षित है। पुलिस फरार अपराधियों की तलाश में छापेमारी कर रही है। मौके से लुटेरों की पिकअप, बाइक और पिस्टल व खोखा बरामद हुआ है।

घटना के बाद FSL की टीम बैंक में पहुंची। वहां से खून के नमूने साक्ष्य के तौर पर संकलन किया। बैंक मैनेजर सन्तोष कुमार ने बताया कि उस समय बैंक में छह स्टाफ मौजूद थे। कैश पूरी तरह सुरक्षित है। लेकिन, कितना कैश था। इसकी जानकारी नहीं दी है।