October 14, 2021

Mookhiya

Just another WordPress site

New Mookhiya election date announced.( Click Here )

पंचायत चुनाव: संभलकर मनाएं जीत का जश्न मुखिया जी, नही तो ऐसी होगी सख्त कार्रवाई

चुनाव बाद की हिंसा से निपटने के लिए पुलिस मुख्यालय ने कमर कस ली है। सभी जिलों के एसएसपी और एसपी को ऐसी किसी भी घटना पर न सिर्फ त्वरित कार्रवाई के आदेश दिए गए हैं बल्कि सख्त एक्शन भी होगा। वैसे इलाके जहां चुनाव बाद हिंसा की आशंका जताई जा रही है

कई जिलों में हुई हिंसा की घटनाएं

चुनाव परिणाम को लेकर वैसे तो बहुत बड़ी वारदात सामने नहीं आई पर है कई जिलों में हिंसा की घटनाएं जरूर हुई। ऐसी घटनाओं से निपटने के लिए पुलिस मुख्यालय ने सभी जिला पुलिस कोृ दिशा-निर्देश दे रखा है। इसके तहत जहां कहीं भी हिंसा की घटना होती है उसपर फौरन कार्रवाई की जाए। विजय जुलूस निकालने पर भी रोक है। ऐसे में यदि कहीं जीत का जश्न मनाने के लिए विजय जुलूस निकलता है तो जुलूस निकालने वाले पर कार्रवाई होगी।

हिंसा रोकने के लिए हो रही यह कार्रवाईजिला पुलिस को पहले से ही इसका आकलन कर निरोधात्मक कार्रवाई को कहा गया है। वैसे प्रत्याशी या उनके समर्थक जिनसे चुनाव परिणाम के बाद हिंसा की आशंका जताई जा रही है उनसे बांड भरवाया जाएगा। सीआरपीसी की धारा 107 के तहत उनसे बांड भरवाने के आदेश दिए गए हैं।

कथित एसिड अटैक मामले में प्राथमिकी दर्ज

मोतिहारी में नानपुर थाना क्षेत्र में जीत के बाद गौरी पंचायत के मुखिया द्वारा विजय जुलूस निकाला गया था। पुलिस ने उसे रोकने की कोशिश की तो दारोगा को भीड़ ने खदेड़ दिया। पुलिस ने तुरंत एक्शन लेते हुए मुखिया समेत 16 लोगों को गिरफ्तार कर लिया। वहीं वैशाली जिले में चुनावी रंजीश में गोतिया के परिजनों पर कथित एसिड अटैक को लेकर पुलिस की पहल पर प्राथमिकी दर्ज की गई। पुलिस को आशंका है कि हमले में एसिड नहीं, गर्म चासनी का इस्तेमाल किया गया है।