October 15, 2021

Mookhiya

Just another WordPress site

New Mookhiya election date announced.( Click Here )

जनता दरबार में पुलिस कर्मियों के खिलाफ महिलाओ ने की शिकायत, मुख्यमंत्री नितीश कुमार ने जल्द कार्यवाही के आदेश दिए

बिहार में सुशासन का क्या हाल है, इसकी पोल फरियादियों ने सोमवार को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के समक्ष ही खोल कर रख दी। जनता दरबार कार्यक्रम में महिलाओं ने कई दारोगा और डीएसपी पर यौन शोषण का आरोप लगाया। इतना ही नहीं एक फरियादी ने तो मुख्यमंत्री से कहा कि डीएसपी यौन शोषण मामले में डीजीपी से मिलने गई तो उन्होंने कहा कि लड़कियां पहले अपनी अदाओं से लोगों को फंसाती हैं और बाद में शिकायत करती हैं।

हद तो यह हो गई कि नीतीश ने उस लड़की को डीजीपी के पास ही फरियाद लेकर वापस भेज दिया। शायद यह पहला मामला होगा जिसके खिलाफ शिकायत की गई हो वही शिकायत सुने।

एसटीएफ के डीएसपी अमन कुमार के ऊपर यौन शोषण का आरोप लगाने वाली युवती ने मुख्यमंत्री के सामने कहा कि वह बीते शुक्रवार को बिहार के डीजीपी एसके सिंघल के सामने भी अपनी फरियाद लेकर पहुंची थी, लेकिन डीजीपी ने तो हद ही कर डाली। उन्होंने कहा कि लड़कियां पहले अपनी अदाओं से लड़कों को फंसाती हैं और फिर बाद में उनके पर आरोप लगाती हैं।

एक महिला मुखिया ने मुख्यमंत्री से शिकायत की कि उनके पति की हत्या कर दी गई है। शिकायत करने के बाद भी थानेदार आरोपी को बचाने में लगे हुए हैं। अभियुक्त की गिरफ्तारी भी हुई और 17 दिनों में जमानत मिल गई। अब वह आरोपी लगातार धमकी दे रहा है। इस पर मुख्यमंत्री ने गृह विभाग के अपर मुख्य सचिव एवं डीजीपी को इस मामले में करवाई करने का निर्देश दिया।

सिवान के गौतम यादव ने पुलिस अधीक्षक और थाना प्रभारी के खिलाफ शिकायत करते हुए कहा कि हमारे द्वारा शराब विक्रेताओं के खिलाफ की गई लिखित सूचना को व्हाट्सएप पर इन लोगों ने सार्वजनिक कर दिया। मुख्यमंत्री ने इस मामले का संज्ञान लेते हुए संबंधित विभाग को शीघ्र कार्रवाई करने का आदेश दिया।