December 8, 2021

Mookhiya

Just another WordPress site

New Mookhiya election date announced.( Click Here )

चोरी के रुपए से 7 गांवों की सड़कें बनवाईं, लोगों ने पत्नी को जिला परिषद सदस्य चुना

देश के 12 राज्यों का मोस्ट वांटेड बिहार के सीतामढ़ी का रॉबिनहुड निकला। बड़े-बड़े शहरों में घूमकर करोड़ों रुपए की चोरी करने वाले सीतामढ़ी के पुपरी के गाढ़ जोगिया गांव के इरफान उर्फ उजाले ने अपने क्षेत्र के 7 गांवों की सड़कों को 1 करोड़ रुपए की लागत से बनवाया है। 20 लाख रुपए देकर गरीब पड़ोसी की लड़की के कैंसर का ऑपरेशन भी कराया। इरफान के काम को देखते हुए लोगों ने उसकी पत्नी गुलशन परवीन को जिला परिषद का चुनाव लड़वा दिया। मंगलवार की हुई मतगणना में वो चुनाव भी जीत गई है।

जगुआर कार से घूम-घूमकर देशभर में चोरी करने वाले शातिर इरफान की इस करतूत का खुलासा गाजियाबाद पुलिस ने किया है। लोगों ने उसकी करतूतों के बारे में स्पष्ट कुछ नहीं कहा। बस इतना बताया कि इरफान नेक दिल इंसान है। जरूरत पड़ने पर गांव वालों की मदद करता है। एक समय इरफान के माता-पिता को घर चलाने के लिए मजदूरी करनी पड़ती थी। आज उसकी स्थिति बदल गई है। गांव वालों ने बताया- हम उसे करोड़पति बिजनेसमैन समझते हैं। वह जब भी घर आता, हमेशा नई लग्जरी कार में ही आता।’

बता दें कि गाजियाबाद पुलिस ने कवि नगर के कारोबारी कपिल गर्ग के घर में हुई डेढ़ करोड़ रुपए की चोरी के आरोप में इरफान को अरेस्ट किया है। मजेदार बात यह है कि उसकी गिरफ्तारी की जानकारी सीतामढ़ी पुलिस को नहीं है। इस संबंध में पुपरी थानाध्यक्ष ने बताया कि सितंबर में पुलिस इरफान की तलाश में गई थी। तब गांव में नहीं होने की वजह से उसकी गिरफ्तारी नहीं की जा सकी।

बहन की शादी के लिए नहीं थे पैसे, तब शुरू की थी चोरी
पुलिस को दिए बयान में इरफान ने बताया है, “11 साल पहले बहन की शादी में दहेज के लिए रुपए की व्यवस्था नहीं हो पा रही थी। तब बिहार में ही एक चोरी की थी। इसमें पकड़ा नहीं गया था। बहन की शादी होने के बाद से लगातार चोरी कर रहा हूं।’

इरफान ने कबूला है कि अपने गिरोह के साथ उत्तर प्रदेश, दिल्ली, पंजाब, आंध्र प्रदेश, कर्नाटक, केरल, तेलंगाना और गोवा सहित 12 राज्यों में चोरी की, लेकिन वह कभी पकड़ा नहीं गया। पुलिस के मुताबिक वह रात को 1 से 3 बजे के बीच चोरी करता था।

12 राज्यों में 40 से ज्यादा मामले दर्ज
इरफान पुपरी के गाढ़ जोगिया गांव का निवासी है। 7 सितंबर को गाजियाबाद पुलिस स्थानीय पुलिस के सहयोग से इरफान को गिरफ्तार करने पुपरी पहुंची थी, लेकिन जब वह नहीं मिला तो उसकी पत्नी गुलशन परवीन, गांव के मो. शोएब और विक्रम साह को गिरफ्तार कर ले गई थी। गैंग के 11 लोगों की गिरफ्तारी के बाद जब उनको जमानत दिलाने इरफान पहुंचा तो पुलिस ने उसे गाजियाबाद से गिरफ्तार कर लिया। देश के 12 राज्यों में उस पर 40 से ज्यादा मामले दर्ज हैं। उनमें सारे मामले हाई प्रोफाइल हैं। जमानत पर छूटने के बाद गुलशन चुनाव लड़ने सीतामढ़ी आ गई।