October 14, 2021

Mookhiya

Just another WordPress site

New Mookhiya election date announced.( Click Here )

नगर निगम कर्मियों की हड़ताल जारी, कार्यालय में जड़ा ताला वाहनों में तोड़फोड़, 23 कर्मियों पर केस

नगर निगम कर्मचारियों की हड़ताल के पांचवें दिन शनिवार काे भी माेहल्लों में सफाई वाहन नहीं पहुंचे। शहर की सड़कों पर करीब 4000 टन कचरा जमा हो गया है। इसमें करीब 2400 टन गीला व 1600 टन सूखा कचरा है। बारिश के बाद कूड़े की बदबू से सड़क पर चलना मुश्किल हो रहा है।

अधिक बारिश हाेने पर कचरा मैनहोल व कैचपिट के जरिए ड्रेनेज में जाकर जलनिकासी को प्रभावित कर सकता है। इससे अधिक मुसीबत खड़ी हो सकती है। इधर अंचलों के स्तर पर सफाई व्यवस्था को चलाने की कोशिश की जा रही है। हड़ताली कर्मचारी इसमें अड़ंगा लगा रहे हैं।

शनिवार को एक बार फिर नगर निगम कर्मचारियों ने कंकड़बाग अंचल कार्यालय में ताला जड़ दिया। कार्यालय के गेट पर टायर जलाकर सफाई वाहनों को रोक दिया। वाहनों में तोड़फोड़ की। कार्यपालक पदाधिकारी शशि भूषण प्रसाद ने कंकड़बाग के थानाध्यक्ष को पत्र लिखकर 23 कर्मचारियों के खिलाफ मामला दर्ज कराया है।

कार्यपालक पदाधिकार ने कहा है कि शनिवार को हड़ताली कर्मचारियों ने दैनिक सफाई कार्य को बाधित करने का प्रयास किया। कार्य करने में लगे ड्राइवर व सफाई कर्मी आदि को धमकाया। सफाई वाहनों को क्षति पहुंचाया और अंचल कार्यालय में अनाधिकृत रूप से ताला जड़ दिया।

कार्यालय के गेट पर आगजनी की गई। ऐसे कर्मचारियों के संबंध में सिटी मैनेजर व मुख्य सफाई निरीक्षक को दोषियों को चिन्हित करने का निर्देश दिया गया था। इस क्रम में 10 कर्मचारियों को चिन्हित किया गया है। इसमें प्रभारी सफाई पर्यवेक्षक दिनेश कुमार व चितरंजन कुमार समेत दैनिक सफाई मजदूर व दैनिक चालक शामिल हैं।

इसके बाद कार्यपालक पदाधिकारी ने एक और पत्र में 13 हड़ताली कर्मियों पर सफाई वाहनों में तोड़फोड करने के मामले में कंकड़बाग थानाध्यक्ष से प्राथमिकी दर्ज करने की बात कही है। कार्यपालक पदाधिकारी ने कहा कि शनिवार को दैनिक सफाई कार्य के लिए निकल रहे डोर टू डोर वाहन, ओपन टीपर, टाटा 407 और जेसीबी में तोड़फोड़ की गई।

वाहनों का शीशा तोड़ दिया गया। गाड़ियों की हवा निकाल दी गई। कई वाहनों को पंचर कर दिया गया। जेसीबी का फ्यूज निकाला गया और उसकी वायरिंग को क्षतिग्रस्त किया गया है। इस मामले में 13 कर्मचारियों पर प्राथमिकी दर्ज करने का अनुरोध किया गया है।

कार्यपालक पदाधिकारी ने कहा कि कानून को हाथ में लेने वालों पर दंडात्मक कार्रवाई होगी। उन्होंने थानाध्यक्ष से अनुरोध किया है कि चिन्हित कर्मचारियों के खिलाफ सुसंगत धाराओं में मामला दर्ज करते हुए कानूनी कार्रवाई की जाए।